2021 की टॉप 5 क्रिप्टोकरेंसी के बारे में जानें, होगा बड़ा फायदा

Image credit: pixabay

क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया में सबसे पुराने क्रिप्टो कॉइन्स Bitcoin (BTH) और Ethereum (ETH) माने जाते हैं। मगर टेक्नोलॉजी के ग्रोथ के साथ नए और तेज़ी से लोकप्रिय हो रहे क्रिप्टो कॉइन्स भी मार्केट में आ गए हैं।

Dogecoin (DOGE), Shiba Inu (SHIB) और Cardano (ADA), Litcoin जैसे क्रिप्टो कॉइन्स ने भी शेयर मार्केट में अपनी मजबूत दावेदारी ठोक दी है।

Bitcoin और Ethereum सबसे पुरानी क्रिप्टोकरेंसी में से एक हैं मगर हालिया दिनों में विवाद में घिरने की वजह से Bitcoin का ग्राफ बहुत ज्यादा डाउन हुआ है वहीँ हालिया दिनों में Cardano क्रिप्टो कॉइन को निवेशकों द्वारा काफी पसंद किया जा रहा।

Litecoin लगातर हो रहा पॉपुलर

क्रिप्टोकरेंसी पिछले कुछ महीनों में चर्चा का विषय बन गई है। खासकर Bitcoin का गिरता मार्केट और इसपर उठते सवाल को लेकर लोगों की दिलचस्पी इस करंसी में बढ़ी है।

Cryptocurrency Market क्यों रहता है चर्चा में

ग्राफ में अचानक से जबरदस्त उतार-चढ़ाव की वजह से ही यह मार्केट शेयर बजार के निवेशकों की निगाहों में बना हुआ हैं। इस समय क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज्स में 1600 से अधिक क्रिप्टोकरेंसी लिस्टेड हैं और यह लगातार बढ़ते जा रहे है।

Ripple का मार्केट स्थिर

पिछले कुछ सालों में Ripple (XRP) ने भी अपनी मौजूदगी शेयर बाजार मे दर्ज करा ली है, निवेशकों में इस क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू हालिया रिपोर्ट के मुताबिक बढ़ती दिखी है क्योंकि यह स्टेबल करंसी मानी जाती है।

Top 5 Cryptocurrency in 2021

Bitcoin

Bitcoin ने ही डिज़िटल मार्केट में क्रिप्टोकरेंसी की शुरुआत 2009 में की थी। ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर काम करने वाला बिटकॉइन ‘सातोशी नाकामोतो’ नाम से काम करने वाले एक व्यक्ति या ग्रुप ने बनाया। इस व्यक्ति की असली पहचान अभी तक दुनिया के सामने नहीं आई है। ऐसा भी हो सकता है कि यह केवल एक व्यक्ति हो या कई लोगों का एक ग्रुप हो। बिटकॉइन इस समय सबसे पुरानी क्रिप्टो कॉइन है। इस कॉइन का अभी तक की सबसे ज्यादा कीमत 64,829 डॉलर (43.7 लाख रुपये) तक गई है, Bitcoin की कुल मार्केट वैल्यू 54,340 अरब रुपये हो चुकी है जो बाकी क्रिप्टोकरेंसी से बहुत ज्यादा है। हालांकि सबसे ज्यादा विवादों और डाउन ग्राफ का सामना भी Bitcoin ने ही किया है, यह क्रिप्टोकरेंसी कभी स्थिर नहीं मानी जाती इसके बावजूद निवेशकों में इसकी वैल्यू अच्छी-खासी है।

Ethereum (Ether)

Bitcoin के बाद सबसे पॉपुलर क्रिप्टो कॉइन Ethereum है, इथेरियम ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म का नाम है और इसके क्रिप्टो कॉइन का नाम Ether है। यह एक यूटिलिटी क्रिप्टोकरेंसी है, जिसे Ethereum प्लेटफॉर्म को इस्तेमाल करने के लिए भुगतान के रूप में दिया जाता है। Ethereum का ऑल टाइम हाई ग्राफ 3.2 लाख रुपये के आसपास रहा था और फिलहाल इसकी मार्केट वैल्यू 23,000 अरब रुपये है।

Ripple XRP

Ripple (XRP) को रिस्क फ्री क्रिप्टोकरेंसी भी कहा जाता है। अभी तक यह काफी सैफ यूटिलिटी कॉइन माना गया है और शुरुआत से इसे कई बैंक का सपोर्ट भी मिला है। Ripple आने वाले समय में पारंपरिक वित्तिय प्रणाली का हिस्सा बन सकता है ऐसा कई बड़े निवेशकों का मानना है। अभी इसकी मार्केट वैल्यू 8,200 अरब रुपये है और इसका पीक ग्राफ 2.48 लाख रुपये रहा है।

Litecoin

Litecoin को Bitcoin का कंपीटेटर माना जाता है। चूंकि इसका लेन-देन भी P2P (पीयर-टू-पीयर) नेटवर्क के जरिए होता है, जो बिटकॉइन से ज्यादा तेज़ होता है, इसीलिए इसे रेगुलर बेस में Bitcoin से बेहतर माना जाता है। Litcoin का टोटल मार्केट कैप 1,000 अरब रुपये है और जबकि इसका हाई लगभग 30,242 रुपये का रहा था।

Cardano

Cardano भी तेजी से पोपुलर होती क्रिप्टोकरेंसी में से एक है। इस कॉइन से पिछले कुछ समय में निवेशकों को काफी खुश किया है और एक्सपर्ट्स का मानना है कि यह भविष्य में काफी अच्छा परफॉर्म कर सकता है। इसके पीछे Ehereum को रचने वाली टीम के एक सदस्य चार्ल्स हॉकिन्सन (Charles Hoskinson) का हाथ है। कार्डानो के पीछे रही टीम का कहना है कि यह अन्य ब्लॉकचेन से बेहतर ब्लॉकचेन पर बनी है। इसे “Ethereum killer” के नाम से भी जाना जाता है। हालांकि फिलहाल यह अपने शुरुआती चरण में है और नई क्रिप्टोकरेंसी है, लेकिन पिछले कुछ समय में इसे काफी प्यार मिला है। खबर लिखने तक इसका मार्केट कैप 4,000 अरब रुपये था और इसका ऑल टाइम हाई 180.50 रुपये रहा था।

यह भी पढ़ें: TWITTER की नई वेरिफिकेशन पॉलिसी से यूजर्स ले सकेंगे ब्लू टिक