SENIOR CITIZEN CARD: इस कार्ड से मिलेगा आपके सभी सरकारी योजनाओं का फायदा,जाने कैसे करें आवेदन

SENIOR CITIZEN CARD
Image Credits: Unsplash

SENIOR CITIZEN CARD: बड़ी संख्या में वरिष्ठ नागरिकों और उनकी दैनिक कठिनाइयों को देखते हुए सरकार वरिष्ठ नागरिकों का कार्ड बनाती है। यह कार्ड 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों के लिए बनाया गया है, जिसे वरिष्ठ नागरिक आईडी कार्ड भी कहा जाता है। यह कार्ड भी एक तरह का पहचान पत्र है जो कार्डधारक का विवरण बताता है। इस कार्ड की मदद से वरिष्ठ नागरिकों को कई खास सुविधाएं दी जाती हैं।इस कार्ड की मदद से सरकारी और निजी योजनाओं का लाभ भी दिया जाता है। इस कार्ड में वरिष्ठ नागरिकों के रक्त समूह, आपातकालीन संपर्क नंबर, एलर्जी और अन्य दवा विवरण दिए गए हैं। तो आइए जानते हैं सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड कैसे बनाते हैं।

SENIOR CITIZEN CARD के लिए दस्तावेज

सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड बनाने के लिए राज्य सरकार की वेबसाइट पर अप्लाई करना होता है। इसका फॉर्म राज्य सरकार की वेबसाइट पर ही मिलता है जहां इसे ऑनलाइन भरा जा सकता है। वरिष्ठ नागरिक आईडी कार्ड के लिए आपको कुछ दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी। आपकी उम्र के प्रूफ के लिए आप पासपोर्ट, पैन कार्ड, स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट में से कोई भी एक दस्तावेज दें सकते हैं।निवास प्रमाण पत्र के लिए आप राशन कार्ड, पासपोर्ट, चुनाव कार्ड, बिजली या फोन बिल जैसे वैध दस्तावेज दे सकते हैं जो आवेदक के नाम हो।वहीं इसके अलावा आपको चिकित्सा सूचना पत्र भी देना होगा जिसके लिए आपको ब्लड रिपोर्ट, दवा और एलर्जी की रिपोर्ट देनी होती है।इसके साथ ही आपको 3 स्टाम्प साइज फोटो भी संलग्न करना होगा।

इस कार्ड से क्या होगा फायदा

पहले वरिष्ठ नागरिकों को रेलवे में किराए में रियायत दी जाती थी, लेकिन अब यह बंद है। हालांकि, अब भी एक अलग टिकट काउंटर उपलब्ध कराया गया है। फ्लाइट टिकट में छूट दी जाती है। अन्य की तुलना में आयकर कम है, साथ ही कुछ मामलों में रिटर्न दाखिल करने से छूट भी है। FD पर आम जनता से ज्यादा ब्याज मिलता है. डाकघर निवेश योजना आम लोगों की तुलना में अधिक लाभ और सुविधाएं प्रदान करती है। सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज और सरकारी अस्पतालों में रियायती दरों पर इलाज दिया जाता है।

ये भी पढ़ें: Honey Jam Business- आज ही शुरू करें शहद का ये सुपरहिट बिजनेस,घर बैठे कमाएंगे लाखों रूपये