Survey: भारत के युवा किस क्षेत्र में करना चाहते हैं नौकरी, शोध में हुआ खुलासा

Office
Image Credits: Unsplash

भारत समेत दुनिया भर के युवा किस क्षेत्र में नौकरी करना चाहते हैं. इसको लेकर एक रिसर्च की गई है जिसमें इस बात का खुलासा हुआ है. HSBC द्वारा समर्थित अंतरराष्ट्रीय शोध रिपोर्ट ‘फ्यूचर ऑफ वर्क’ द्वारा पता चला है कि भारत में 85 फीसदी युवा पर्यावरण के क्षेत्र से जुड़ी नौकरी करना चाहते हैं. हालांकि इस क्षेत्र में मात्र चार प्रतिशत लोग ही मुख्यत नौकरी कर रहे हैं.

शोध में शामिल 84 प्रतिशत भारतीय युवाओं का मानना है कि उनकी पीढ़ी समाज की कुछ बड़ी चुनौतियों की समस्यों का समाधान कर सकती है. प्रिंस चार्ल्स ने पिछले हफ्ते लंदन के सेंट जेम्स पैलेस में एक कार्यक्रम में कहा कि युवा जलवायु संकट और जैव विविधता संकट को रोकने में परिवर्तन के सूत्रधार बनना चाहते हैं. मेरा मानना है कि यह हमारी जिम्मेदारी है कि यदि संभव हो तो इसे हासिल करने में मदद करें.

ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स द्वारा स्थापित प्रिंस ट्रस्ट (Prince Trust) के नए शोध में सामने आया है कि दुनियाभर के युवा ऐसी नौकरी करना चाहते हैं, जिससे विश्व की कुछ बड़ी चुनौतियों का समाधान करने में मदद मिल सके. सर्वेक्षण के परिणाम से पता चला है कि भारत में शामिल पांच में से चार (83 फीसदी) युवा उस कंपनी या क्षेत्र के पर्यावरणीय प्रभाव पर विचार कर नौकरी करना चाहते हैं. जिससे पर्यावरण क्षेत्र में सुधार हो सके.

आपको बता दें कि डिजिटल में भी युवाओं का अधिक इंटरेस्ट है. 83 फीसदी ने डिजिटल अर्थव्यवस्था से जुड़े क्षेत्र में नौकरी करने की इच्छा जाहिर की है. ब्रिटेन में 1976 में स्थापित किए गए प्रिंस ट्रस्ट का कहना है कि वह फिलहाल 18 देशों में मौजूद हैं.

ये भी पढ़ें: वित्त मंत्रालय ने दैनिक वस्तुओं और वाशिंग मशीन, टीवी पर घटाया Tax, अमूल दूध के बढ़े दाम