Post office की इस योजना के तहत कम निवेश में पाएं अधिक मुनाफ़ा

PM Pension Yojna
Image credits: Pixabay

Post office saving scheme: आज जिस तरह से इंसान की जरूरतें बढ़ रही हैं, उसी तरह महंगाई भी बराबर बढ़ रही है. ऐसे में रुपयों की बचत करना काफी मुश्किल हो जाता है, परन्तु हम सभी जानते हैं कि बचत करना अत्यंत आवश्यक है. जिसके लिए व्यक्ति अपने रुपयों की बचत या उन्हें निवेश करने की सोचता है. इस दौरान ध्यान देने योग्य बात यह होती है कि हम कैसे और कहां अपने रुपयों की बचत या निवेश कर रहे हैं? यदि आपने अपने भविष्य के लिए कुछ धन बचा रखा है और उसे निवेश करने की सोच रहे हैं, तो डाकघर की यह स्कीम आपके लिए कैसे लाभकारी सिद्ध हो सकती कि आइए जानते हैं?

यदि आपके पास भविष्य के लिए कुछ पैसे हैं, और आप अपने धन को निवेश करने की सोच रहे हैं, तो डाकघर की इस स्कीम में आप निवेश कर सकते हैं. साथ ही आप अच्छा खासा लाभ भी ले सकते हैं. डाकघर की इस स्कीम को पोस्ट ऑफिस एमआईएस (Post Office MIS) भी कहा गया है. हाल ही में एक प्रधान डाकघर के सहायक पोस्टमास्टर राजेश कुमार शर्मा ने बताया कि पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (Post Office Monthly Income Scheme) में निवेश अत्यंत फायदेमंद साबित हुआ है. इस स्कीम के अन्तर्गत आप केवल एक बार पैसे जमा करने के बाद 5 बार उसका लाभ उठा सकते हैं.

निवेशक खोल सकता है ज्वाइंट एकाउंट

यदि आप पोस्ट ऑफिस की इस मंथली इनकम स्कीम में निवेश कर रहे हैं,तो आपको ज्वाइंट अकाउंट खोलने की सुविधा भी प्रदान कराई जाएगी. यह अकाउंट आप केवल आसपास के डाकघर में ही नहीं अपितु देश भर के किसी भी डाकघर में चालू कर सकते हैं. यह स्कीम आपके आर्थिक सुधार में सहायक हो सकती है, क्योंकि आपको किसी भी निवेश की गयी राशि पर 6.6% का ब्याज का प्रावधान है.आप अपने साथ अपने बच्चों के लिए भी निवेश अपने नाम से कर सकते हैं ,परन्तु उसकी आयु 10 वर्ष होनी चाहिए. उसकी मैच्योरिटी स्कीम 5 साल की है.

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम का लाभ

इस योजना के तहत अगर आप 9 लाख रुपए एक बार में जमा करते हैं, तो आपको 6.6 प्रतिशत के सालाना ब्याज दर से 59400 रुपए सालाना ब्याज मिलेगा, जो हर महीने के हिसाब से 4950 होगा. वहीं अगर आप इस योजना में 2 लाख रुपए जमा करते हैं, तो आपको 6.6 प्रतिशत सालाना ब्याज की दर से 11 सौ रुपए मिलेगा. 5 साल में या कुल ब्याज 66 हजार रुपए हो जाएगा, और अंत में आपको 2 लाख रुपए वापस भी मिल जाएंगे.