नए साल और कोरोना के एहतियात के लिए कितनी तैयार दिल्ली पुलिस ?

DELHI POLICE
Source- DNA INDIA

देश की राजधानी दिल्ली में नया साल पूरी धूम धाम से मनाया जाता रहा हैं, परंतु पिछले दो सालों से कोरोना के चलते लोग घरों में नया साल मनाने पर मजबूर हैं। लेकिन इसके विपरीत अब अधिकतर लोगों को कोरोना वैक्सीन की डबल डोज़ लग चुकी हैं। इसलिए अब वह खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं, लेकिन कई ऐसे लोग है जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई हैं।

2 साल से 18 साल तक के बच्चों को भी अभी वैक्सीन नहीं लगी हैं, ऐसे में केंद्र और राज्य सरकारों ने फिर नाइट कर्फ़्यू का ऐलान किया हैं। कोरोना के एहतियात से अलग दिल्ली पुलिस ने इस बार नए साल पर चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ाम किए हैं। रात पर आला अधिकारियों की गश्ती के बाद शनिवार सुबह चार से आठ बजे तक पीकेटस जांच पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है ।

महिला सुरक्षा पर विशेष ध्यान देते हुए सभी संवेदनशील जगहों और पार्क और अन्य व्यावसायिक जगहों पर पीसीआर और अन्य सादी वर्दी में पुलिस वाले तैनात किए गए हैं। दिल्ली अग्निशमन विभाग ने भी सभी 60 स्टेशनों की 110 गाड़ियों को सड़कों पर उतारा हैं, ताकि राजधानी के लोग शांति और सुरक्षा से नए साल का आगमन करे। दिल्ली पुलिस ने यह भी साफ किया कि वह किसी भी असामाजिक तत्व को बर्दाश्त नहीं करेगी।

DP Prakaram
Source- The Logical Indian

दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त अतुल कटियार ने बताया कि शुक्रवार देर रात करीब एक बजे तक वे खुद गश्त पर रहे हैं। पश्चिमी क्षेत्र के द्वारका उपनगरी, विकासपुरी और बाहरी दिल्ली के अन्य सभी इलाके में कटियार ने गश्त करते हुए पुलिसकर्मियों को निर्देश दिया कि वे एक बजे तक सड़क पर गश्त करते हुए नए साल के जश्न में किसी भी प्रकार का विघ्न नहीं आए इसका ख्याल रखते हुए निर्देश का पूरी तरह से पालन कराएंगे।

कटियार ने मध्यरात्रि तक पेट्रोलिंग की और सुरक्षा प्रबंध का जायज़ा लिया। वैसे कोरोना को देखते हुए आम जनता भी सतर्क हैं। बहुत से लोग एहतियात बरतते हुए सादगी से अपने-अपने घरों के अंदर ही नए वर्ष का जश्न मना रहे हैं। लोग अपने परिजनों, परिचितों और पड़ोसियों को फोन और ऑनलाइन माध्यम से बधाइयों का आदान-प्रदान करके नए वर्ष की शुभकामनाएं व्यक्त कर रहे हैं। साथ ही खुद स्वस्थ रहें और दूसरों को भी स्वस्थ रखें की भावनाएं भी प्रकट कर रहे हैं। नए साल के अवसर पर बहुत से लोगों का जनमदिवस भी होता हैं।

यह भी पढ़े: क्या ओमिक्रॉन के साथ चलेंगे चुनाव? जानिए इस पर चुनाव आयोग का कहना

यह भी देखें: