Chandigarh University Case में आरोपी 7 दिन के रिमांड पर, छात्रों ने किया धरना प्रदर्शन खत्म,

Chandigarh University Case

Chandigarh University Case: पंजाब के माहोली में छात्राओं के अश्लील वीडियो वायरल करने का मामला गर्मा रहा है. मामला चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी का है. हालांकि पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है. अभी तक 3 लोगों के अब तक गिरफ्तार कर लिया है. वहीं यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स का धरना प्रदर्शन खत्म होने के बाद यूनिवर्सिटी ने भी 24 सितंबर तक नॉन टीचिंग डे घोषित कर दिया है.

पंजाब के मोहाली स्थित चंडीगढ़ विश्वविद्यालय की कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड किए जाने के आरोपों की निष्पक्ष एवं पारदर्शी जांच का भरोसा दिलाए जाने पर 19 सितंबर को छात्रों ने अपना प्रदर्शन खत्म किया. विश्वविद्यालय ने सोमवार को लापरवाही के आरोप में दो वार्डन को निलंबित कर दिया और 24 सितंबर तक अवकाश की घोषणा कर दी.

Chandigarh University Case में होगा SIT का गठन

न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में भुल्लर ने कहा कि हम स्टूडेंट को यकीन दिला रहे है कि कानूनी प्रक्रिया शुरू हो गई है. छात्रों से लगातार संवाद किया जा रहा है. वहीं मोहाली के डिप्टी कमिश्नर तलवार ने कहा कि इस पूरे में मामले में किसी की आत्महत्या की कोई जानकारी नहीं है. ये एक अफवाह थी.विवेक शील सोनी ने बताया कि मामले में जांच के लिए एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की अगुवाई में एक विशेष जांच दल बनाया जाएगा. विश्वविद्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘हम हमेशा अपने छात्रों के साथ हैं, भले ही उनकी अकादमिक महत्वाकांक्षाओं की बात हो या उनकी सुरक्षा एवं कल्याण का मामला हो.

छात्राओं और पुलिस की बातें अलग-अलग

बता दें कि एक छात्रा द्वारा छात्रावास की कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड किए जाने के आरोपों को लेकर शनिवार रात छात्रों ने प्रदर्शन शुरू किया था. कुछ छात्रों का आरोप है कि वीडियो लीक किए गए हैं। पुलिस ने कहा था कि ऐसा लगता है कि 23 साल की आरोपी छात्रा ने केवल अपना एक वीडियो उस युवक के साथ साझा किया, जिसे उसका प्रेमी बताया जा रहा है और किसी अन्य छात्रा का कोई आपत्तिजनक वीडियो नहीं मिला है.

3 लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी

पुलिस ने वीडियो लीक करने की आरोपी छात्रा को पंजाब से गिरफ्तार किया गया. इसके अलावा हिमाचल प्रदेश से 23 साल के एक युवक को गिरफ्तार करके पंजाब पुलिस को सौंप दिया गया.अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार छात्रा का मोबाइल फोन फॉरेंसिक जांच के लिये जब्त कर लिया गया है और किसी छात्रा के आत्महत्या की कोशिश करने का मामला सामने नहीं आया है और इस मामले में किसी की मौत नहीं हुई है.वहीं पुलिस ने आरोपियो को 7 दिन के रिमांड पर लिया है जहां उनसे पूछताछ की जाएगी.

ये भी पढ़ें: Chandigarh University Case में पुलिस की बड़ी कारवाई, शिमला से दो लड़कों को किया गिरफ्तार