comscore
Tuesday, November 29, 2022
- विज्ञापन -

Chanakya Niti: यदि पति-पत्नी दोनों में से किसी में भी है ये अवगुण, तो कभी नहीं चल सकती अच्छी गृहस्थी

Published Date:

Chanakya Niti: विवाह के बंधन में बंधने के बाद पति पत्नी का रिश्ता बेहद खास होता है. सात फेरों में लिए जाने वाले वचन उन्हें सात जन्मों के लिए एक दूसरे का बना देते हैं. पति पत्नी एक दूसरे से कई आकांक्षा रखते हैं. एक दूसरे का सम्मान करते हैं. साथ ही एक नए जीवन और परिवार का निर्माण करते हैं. लेकिन सफलता से वही रिश्ता आगे बढ़ता है जिसमें पति-पत्नी एक दूसरे का साथ देते हैं.

ये भी पढ़े:- हमेशा के लिए टल जाएगा बड़े से बड़ा संकट, केवल मानें चाणक्य की ये बातें…

चाणक्य नीति के अनुसार कभी-कभी ऐसी परिस्थितियां आती है जब पति-पत्नी में विवाद शुरू हो जाता है. इसका कारण पति भी हो सकता है और पत्नी भी हो सकती है. चाणक्य नीति में कुछ ऐसी दशाओं को बताया गया है जिनसे एक पति, पत्नी का दुश्मन बन जाता है. चाणक्य नीति के अनुसार, क्या है वह दशाएं जिनसे पति पत्नी का रिश्ता खराब होता है. और पति अपनी पत्नी का दुश्मन बन जाता है आइए जानते हैं.

Chanakya niti

चाणक्य नीति के अनुसार पति-पत्नी के बीच लड़ाई के हो सकते हैं ये कारण

बुरे चरित्र वाली स्त्री के लिए बुरा है पति

चाणक्य नीति के अनुसार जो स्त्री बुरे स्वभाव की या बुरे चरित्र की होती है, उस पत्नी के लिए पति शत्रु जाता है. पति पत्नी के रिश्ते में ईमानदारी होना जरूरी है. यदि इस रिश्ते में पत्नी का चरित्र खराब होता है तो पति का प्यार कम हो जाता है. साथ ही वह अपनी पत्नी से शत्रु की तरह व्यवहार करता है.

अज्ञानी पति या पत्नी

चाणक्य नीति के अनुसार जो लोग मूर्ख होते हैं वह ज्ञानी लोगों से चिढ़ते हैं. इस प्रकार पति-पत्नी में से जो भी मूर्ख होता है वह अपने पार्टनर को शत्रु मारने लगता है. उसे अपने पार्टनर के विचार चुभते हैं. ऐसे में पति पत्नी के रिश्ते में दरार भी आना शुरू हो जाती है.

Chanakya niti

पति-पत्नी अगर बुराइयों में लिप्त हो

यदि पति या पत्नी में से कोई भी एक किसी बुराई में लिप्त होता है. तो इसका खामियाजा दोनों को ही भुगतना पड़ता है. यदि पत्नी कोई गलत कार्य करती है तो उसका परिणाम पति को भी भोगना पड़ता है. यदि पति कोई बुरा काम करता है तो पत्नी को भी उसका परिणाम भुगतना पड़ता है. ऐसे में शत्रुता बढ़ती है और प्रेम खत्म होता है.

लालची पति या पत्नी

चाणक्य नीति के अनुसार यदि पति या पत्नी में से कोई भी एक अधिक लालची होता है तो आपस में बैर बढ़ जाता. लालची व्यक्ति किसी से स्नेह ही नहीं करता बस धन से प्रेम करता है. ऐसे में वह अपने पार्टनर की भावनाओं को भी आहत करता है. जिसके चलते दोनों में शत्रुता बढ़ती है.

Anshika Johari
Anshika Joharihttps://hindi.thevocalnews.com/
अंशिका जौहरी The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि विशेषकर धर्म आधारित विषयों में है, और इस विषय पर वह काफी समय से लिखती आ रही हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी, बरेली से की है.
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Rohit Sharma ने आखिर एक महीने पहले ही क्यों मनाया बेटी का जन्मदिन, जानें असली वजह

 भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) इन दिनों...

Honda Activa 7G का दमदार लुक जल्द होगा लांच, Jupiter को देगी कड़ी टक्कर, जानें जबरदस्त फीचर्स

Honda मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया के सबसे ज्यादा बिकने...

Redmi K60E के लॉन्च से पहले लीक हुए इस स्मार्टफोन के फीचर्स, जानें डिटेल्स

Redmi K60E जल्द ही मार्केट में लॉन्च होने वाला...

भारत को Brett Lee की बड़ी चेतावनी, अर्शदीप को बचाओ, कमेंटेटर और पूर्व खिलाड़ियों से दूर ले जाओ

Brett Lee: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व गेंदबाज ब्रेट ली (Brett Lee) भारतीय...