Chanakya Niti: सामने हो अगर ऐसी परिस्थितियां, तो सांप की तरह करें व्यवहार, वरना हर कोई करेगा आपके साथ खिलवाड़

Chanakya Niti
Image Credit:- thevocalnewshindi

Chanakya Niti: क्या आप जानते हैं? चाणक्य नीति, एक ऐसा नीति ग्रंथ है जो आपके जीवन को बदल सकता है. मनुष्य के जीवन में आने वाले उतार-चढ़ाव से निकालने में भी यह चाणक्य नीति सक्षम है. यह नीति आचार्य चाणक्य द्वारा लिखी गई है. जिसमें मनुष्य की सफलता और सफलता में आने वाली कठिनाइयों के विषय में सारी जानकारी दी गई है.

ये भी पढ़े:- इन 3 घटनाओं के होने पर बदल जाती है व्यक्ति की जिंदगी, काबू में नहीं रह पाते हैं जज्बात

इतना ही नहीं जिंदगी के हर एक पहलू के बारे में चाणक्य नीति बताती है. चाणक्य नीति मनुष्य के जीवन को एक नया आयाम देने में मदद करती है. किसी के साथ ही चाणक्य नीति में परिस्थितियों के अनुसार बर्ताव करने के विषय में भी बताया गया है.

Chanakya Niti

किन परिस्थितियों में करें सांप की तरह व्यवहार

चाणक्य नीति के अनुसार, जीवन की कुछ परिस्थितियों में मनुष्य को सांप की तरह व्यवहार करना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि चाणक्य नीति कहती है कि समाज में संकट के समय मनुष्य को स्वयं की रक्षा हेतु अपना बर्ताव बदलना पड़ता है.

आचार्य चाणक्य कहते हैं, “सांप जहरीला हो या का हो लेकिन वह कभी भी फुफकारना नहीं छोड़ता, उसी प्रकार कमजोर व्यक्ति को हर वक्त अपनी कमजोरी का प्रदर्शन नहीं करना चाहिए.”

Chanakya Niti

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि किसी भी व्यक्ति को अपनी कमजोरियां जगजाहिर नहीं करनी चाहिए. ऐसा करने से कई लोग आपके कमजोर होने का फायदा उठा सकते हैं.

आचार्य चाणक्य के अनुसार कई बार ऐसा होता है कि आप अपने मन की बात दूसरों से शेयर कर लेते हैं, लेकिन उस वक्त आपकी परिस्थिति का लोग फायदा उठा सकते हैं. इसलिए अपनी मन की बात को अपने किसी सच्चे मित्र को ही बताना चाहिए जो आपका फायदा ना उठाएं.