comscore
Monday, December 5, 2022
- विज्ञापन -

Chanakya Niti: अगर आपके आचरण में भी मौजूद हैं ये बातें, तभी आपको समाज में मिलेगा मान-सम्मान

Published Date:

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य इस देश के महान विद्वान हैं. जो कि एक महान अर्थशास्त्री राजनीति विद्वान होने के साथ ही कुशल मार्गदर्शक भी हैं. आचार्य चाणक्य की चाणक्य नीति पर यदि आप विश्वास रखते हैं तो आपको अपने जीवन में बहुत कुछ सीखने को मिलता है.

यदि आप इस समाज में कुशल मार्गदर्शक ढूंढ रहे हैं तोचाणक्य की नीति आपके लिए सर्वाधिक उत्तम रहेगी. इस नीति में मनुष्य के गुणों और उसके आचरण से संबंधित कई बातों का उल्लेख है. व्यक्ति को किस परिस्थिति में क्या करना चाहिए चाणक्य नीति व्यक्ति को साफ करने के विषय में उचित ज्ञान देता है.

Chanakya Niti

चाणक्य नीति में बताए गए कई लोगों में से एक इस श्लोक में भी मनुष्य को एक बड़ी सीख दी गई है. जिसका पालन करके वह अपने सम्मान और लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है.

आचारः कुलमाख्याति देशमाख्याति भाषणम् सम्भ्रमः स्नेहमाख्याति वपुराख्याति भोजनम्

इस श्लोक का अर्थ है कि आचरण व्यक्ति के कुल का प्रतिबिम्ब है. देश का परिचय व्यक्ति की बोली से होता है. आदर सत्कार के जरिए व्यक्ति का व्यवहार पता चलता है. वही उसकी शारीरिक रूप रेखा उसके आहार के विषय में बता देता है.

Chanakya Niti

वाणी देती है आपके कुल का परिचय

आचार्य चाणक्य श्लोक के जरिए बताते हैं कि व्यक्ति को अपनी वाणी मधुर रखनी चाहिए. क्योंकि उसकी भाषा ही उसके कोई का प्रतिबिंब होती है. आपकी वाणी ही आपके गुणों और कुल का परिचय देती है. आपकी सर्वोत्तम भाषा ही देश की पहचान बनती है. यही कारण है कि विदेशों में भी आपको अपनी मातृभाषा का त्याग नहीं करना चाहिए.

Chanakya Niti

सबका सम्मान करना है विशेष गुण

आचार्य चाणक्य इस श्लोक के जरिए यह बताते हैं कि व्यक्ति को अपने से बड़ों का सम्मान तो करना ही चाहिए लेकिन यदि वह अपने से निचले वर्गों को सम्मान देता है तो वह उसके प्रेम और उसके स्नेह का प्रतीक बनता है.

ये भी पढ़ें:- मिनटों में सामने आ जाएगा इंसान का असली चेहरा, बस इस तरीके से लगाएं पता

उत्तम आहार से बनेगा उत्तम स्वास्थ्य

चाणक्य कहते हैं कि यदि आप अपने शरीर को स्वस्थ रखना चाहते हैं. तो आपका उत्तम आहार लेना बेहद आवश्यक है. अच्छे आहार लेने से आप आंतरिक रूप से ही नहीं बल्कि बाहरी रूप से भी शारीरिक सौंदर्य को प्राप्त करेंगे.

Anshika Johari
Anshika Joharihttps://hindi.thevocalnews.com/
अंशिका जौहरी The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि विशेषकर धर्म आधारित विषयों में है, और इस विषय पर वह काफी समय से लिखती आ रही हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी, बरेली से की है.
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Chanakya Niti: वास्तव में पाना चाहते हैं अपने जीवन में सफलता, तो हंस से सीखें ये कला

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य द्वारा व्यक्ति को जीवन में...