chanakya Niti: इस तरीके से कमाया धन कभी नहीं आता है काम, हमेशा करवाता है नुकसान

Chanakya Niti
Image Credit:- thevocalnewshindi

chanakya Niti: आज के समय में धन हर किसी व्यक्ति के लिए एक महत्वपूर्ण चीज बन चुकी है. हर कोई धनी बनना चाहता है. भौतिक सुख सुविधाओं का आनंद उठाना चाहता हैं. इतना ही नहीं सदियों पुरानी लिखी गई आचार्य चाणक्य की चाणक्य नीति में भी धन को आवश्यक बताया गया है.

अधिकतर लोग अधिक पैसा कमाने की चक्कर में गलत रास्तों का विकल्प चुनना सही समझते हैं. लोगों को ईमानदारी की जगह शॉर्टकट से पैसा कमाना आसान लगता है. लेकिन चाणक्य नीति में यह उल्लेखित किया गया है कि आखिर कैसे लोगों के पास धन नहीं टिकता है.

ये भी पढ़े:- हमेशा के लिए टल जाएगा बड़े से बड़ा संकट, केवल मानें चाणक्य की ये बातें…

चाणक्य नीति में एक श्लोक के जरिए यह बताया गया है कि आखिर किस प्रकार का धन नहीं टिकता है और लोगों को अपने धन कमाने की इन आदतों को जल्द ही छोड़ देना चाहिए. वह श्लोक इस प्रकार है –

अन्यायोपार्जितं द्रव्यं दश वर्षाणि तिष्ठति।
प्राप्ते एकादशे वर्षे समूलं च विनश्यति।।

कभी नहीं टिकता है इस तरह से कमाया हुआ धन

Chanakya Niti

गलत ढंग से कमाया गया रुपया कर सकता है आपको भविष्य में बर्बाद

चाणक्य नीति के अनुसार यदि किसी तरीके से रुपया कमाते हैं तो बेशक आपको कुछ समय में ही कहीं हजारों या लाखों रुपया मिल जाएगा लेकिन इसके बाद का जो परिणाम होगा वह अत्यंत घातक होगा. इसलिए गलत रास्ते से कभी धन कमाने का प्रयास ना करें.

मेहनत की कमाई से होती है घर की बरकत

चाणक्य नीति में यह बताया गया है कि यदि आप मेहनत से कमाते हैं तो आपके घर की कमाई में बरकत बनी रहेगी. लेकिन वही जो लोग चोरी से रुपया कमाते हैं उन्हें कभी भी तरक्की नहीं मिल पाएगी. चोरी से कमाया गया धन आपको जीवन में कभी सफल नहीं बना पाए. साथ ही साथ यह आपके जीवन को बर्बाद अवश्य कर देगा.

Chanakya Niti

धोखे की कमाई आपके सम्मान को कर देती है तबाह

चाणक्य नीति के अनुसार जो लोग धोखे से रुपया कमाते हैं उन लोगों को समाज में कभी भी सम्मान नहीं मिलता है. ऐसे लोगों को ना ही तरक्की मिलती है और ना ही उन्हें कोई सम्मान की नजर से देखता है. लोग एक बार ऐसे लोगों के जाल में फंसकर दुबारा उनसे बात नहीं करते हैं. इसलिए आत्म सम्मान से रुपया कामना चाहते हैं तो इस तरीके से रुपया कमाना त्याग दें.
 

अनैतिक धन में नहीं होता माता लक्ष्मी का वास

जो लोग अनैतिक कार्यों से धन कमाते हैं माता लक्ष्मी उनसे कभी परेशानी नहीं होती हैं. निसंदेह वह लोग काफी रुपया कुछ समय में कमा लेते हैं. लेकिन उनका रुपया कभी भी सही कार्य में नहीं लग पाता है. माता लक्ष्मी की रूष्ट होने के कारण अनैतिक तरीके से कमाया गया था हमेशा बीमारी या किसी प्रकार की दुर्घटना में ही व्यर्थ होता रहता है. ऐसे में यदि आप माता लक्ष्मी का वास अपने जीवन में चाहते हैं तो भूल से भी अनैतिक या भ्रष्टाचार तरीके से धन ना कमाएं.