Raksha Bandhan 2022: राखी बांधते समय क्यों लगानी चाहिए तीन गांठें? जानिए जरूरी नियम

Raksha Bandhan 2022
Image credit: pixabay

Raksha Bandhan 2022: रक्षाबंधन का त्योहार बेहद प्यारा होता है. छोटी छोटी बहनें अपने भाइयों की प्यारी-प्यारी कलाइयों पर राखी बांधती हैं. यह त्यौहार हिंदू धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है. इसे भारतवर्ष में हर कोने में मनाया जाता है. इस साल रक्षाबंधन का त्योहार मनाने के लिए 11 और 12 अगस्त की तारीख को में काफी असमंजस रहा. लेकिन कुछ विशेष पंडितों के अनुसार इस वर्ष यह पर्व 12 अगस्त के दिन मनाया जा रहा है.

ये भी पढ़े:- इस रक्षाबंधन अपनी बहन को उसकी राशि के अनुसार दें तोहफा

रक्षाबंधन का यह त्यौहार जिस प्रकार से एक विशेष मुहूर्त के तहत मनाया जाता है. उसी प्रकार रक्षाबंधन के दिन भाइयों को जो राखी बांधी जाती है उसे भी एक विशेष नियम के तहत बांधना चाहिए. दरअसल राखी बांधने का यह विशेष नियम है कि आप जब भी अपने भाई को राखी बांधी तब उसमें तीन गांठ अवश्य लगाएं. यह तीन गांठे भगवान ब्रह्मा, विष्णु, महेश से संबंधित बताई जाती हैं.

इसके अनुसार इन 3 गांठों का महत्व कुछ इस प्रकार होता है.

Raksha Bandhan 2022

पहली गांठ भाई की लंबी उम्र के लिए

राखी बांध के समय जो पहली गांठ लगाई जाती हैं, उसके विषय में कहा जाता है कि यह पहली गांठ भाई की लंबी उम्र की कामना के साथ बांधी जाती है.

Raksha Bandhan Gifts

दूसरी गांठ अपनी लम्बी आयु के लिए

इसके साथ ही राखी बांधते समय जो दूसरी गांठ लगाई जाती है वह अपनी खुद की लंबी उम्र के लिए बांधी जाती है.

Rakshabandhan 2022

तीसरी गांठ भाई बहन के प्यार की दीर्घायु के लिए

तीसरी गांठ अपने भाई बहन के रिश्ते की लंबी उम्र की कामना के साथ बांधी जाती है. इस प्रकार ब्रह्मा विष्णु महेश मिलकर इन तीनों गांठों का संरक्षण करते हैं और आपकी मनोकामना पूर्ण करते हैं.