Vastu For Drawing Room: घर के ड्राइंग रूम को सजाने से पहले जरूर जान लें वास्तु के ये नियम, वरना हाथ धोकर पीछे पड़ जाएंगे राहु-केतु

Vastu For Drawing Room
Image Credit:- unsplash.com
Last updated:

Vastu For Drawing Room: घर की साज-सज्जा और घर के निर्माण से लेकर हर नियम को वास्तु शास्त्र में बताया गया है. वास्तु शास्त्र में घर की सजावट और घर की दिशा को लेकर कई सारे महत्वपूर्ण नियम बताए गए हैं. जिन को ध्यान में रखकर यदि आप घर की प्रत्येक कमरे को तैयार करते हैं, तो इससे आपके घर और जीवन में वास्तु दोष का होना कम हो जाता है.

ये भी पढ़े:- वास्तु शास्त्र के अनुसार बेडरूम किस दिशा में होना चाहिए?

वास्तु में बताए गए नियमों को मानकर आप अपने जीवन में अनहोनी से बच सकते हैं. इसलिए अगर आप अपने घर में ड्राइंग रूम को सजाने की सोच रहे हैं, तो उससे पहले आवश्यक है कि आप वास्तु के नियमों को जरूर जान लें. तभी आप ड्राइंग रूम या अपने घर को वास्तु दोष से मुक्त रख सकते हैं. तो चलिए जानते हैं…

Vastu Tips For Drawing Room

वास्तु के अनुसार ऐसा होना चाहिए घर का ड्राइंग रूम

आपके घर का ड्राइंग रूम हमेशा ईशान कोण से पूर्व की ओर व उत्तर से वायव्य कोण की तरफ बना होना चाहिए.

ड्राइंग रूम में सोफा, कुर्सी, मेज और दीवान आदि दक्षिण पश्चिम दिशा में ही रखनी चाहिए.

ड्राइंग रूम का निर्माण करते समय ध्यान रखें कि उसकी छत और फर्श अन्य कमरों की तुलना में नीची होनी चाहिए.

vastu tips

ड्राइंग रूम में घर के मुखिया को सदैव उत्तर या पूर्व दिशा में ही बैठना चाहिए.

अगर आप की ड्राइंग बुक में खिड़कियां उत्तर या पूर्व दिशा में लगी है, तो इससे ना केवल हवा का आदान-प्रदान अच्छा होता है बल्कि आपके जीवन में वास्तु दोष भी नहीं होता.

ड्राइंग रूम का मुख्य द्वार हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा में ही होना चाहिए, अन्यथा घर के सदस्यों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.