Tokyo Olympics: क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक बनी ‘माना पटेल’

image credits: ANI

भारतीय महिला तैराक माना पटेल को भी टोक्यो ओलंपिक का टिकट मिल गया है. स्वीमिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि की. गौरतलब है टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाली वह पहली महिला और तीसरी भारतीय तैराक बन गईं है. माना को यूनिवर्सलिटी कोटे के तहत ओलिंपिक में प्रवेश मिला है. 21 साल की माना 100 मीटर बैकस्ट्रोक प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी.

बतादें, इससे पहले श्रीहरि नटराज और साजन प्रकाश ने हाल में ओलंपिक क्वालीफिकेशन टाइमिंग (ओक्यूटी) में ‘ए’ स्तर हासिल करके क्वालीफाई किया था. विश्वविद्यालय कोटा से किसी एक देश के एक पुरुष और एक महिला प्रतिस्पर्धी को ओलंपिक में भाग लेने का मौका मिलता है बशर्ते उस देश के किसी अन्य तैराक ने उस वर्ग (पुरुष या महिला) में क्वालीफाई नहीं किया हो या ओलंपिक चयन समय (बी) के आधार पर अंतरराष्ट्रीय तैराकी महासंघ (फिना) से निमंत्रण हासिल नहीं किया हो.

माना ने अपनी उपलब्धि पर ओलंपिक्स.कॉम से कहा, ‘‘यह शानदार अहसास है. मैंने साथी तैराकों से ओलंपिक के बारे में सुना है और टेलीविजन पर इन्हें देखा है तथा कई तस्वीरें देखी हैं. लेकिन इस बार वहां होना, दुनिया के सर्वश्रेष्ठ से प्रतिस्पर्धा करना, मैं रोमांचित हूं.’’

खेल मंत्री ने दी मुबारकबाद

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को ट्वीट कर माना को उनके टोक्यो जाने पर बधाई दी और लिखा, ‘बैकस्ट्रोक तैराक माना पटेल #Tokyo2020 के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली महिला और तीसरी भारतीय तैराक बन गई हैं. मैं माना को बधाई देता हूं, जिन्होंने यूनिवर्सलिटी कोटा के जरिए क्वालिफाई किया. बहुत बढ़िया.’

ये भी पढ़ें: Tokyo 2020- एथलेटिक्स में दुती से रहेगी मेडल की उम्मीद, टोक्यो ओलंपिक के लिए किया क्वालीफाई