दुखद: पूर्व क्रिकेटर यशपाल शर्मा के निधन से शोक में है खेल जगत, कपिल देव हुए भावुक, कही ये बड़ी बात

image credit: twitter

Yashpal Sharma Death: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व वर्ल्ड चैंपियन यशपाल शर्मा (Yashpal Sharma) का निधन हो गया. उन्होंने आज सुबह 66 साल की उम्र में अंतिम सांस ली. उनके मृत्यु का कारण हार्ट अटैक बताया गया. उनके निधन की खबर सुनकर आज क्रिकेट जगत में शोक की लहर चल पड़ी. बता दें कि यशपाल 1983 विश्व कप विजेता भारतीय टीम का अभिन्न हिस्सा थे. जबकि वह पूर्व में भारतीय टीम के चयनकर्ता भी रह चुके हैं.

मिडिल ऑर्डर में उनकी मजबूत बल्लेबाजी की वजह से एक बार सुनिल गावस्कर ने उन्हें टीम इंडिया का क्राइसिस मैन कहा था. यशपाल शर्मा के निधन के बाद खेल जगत में शोक की लहर है. यहाँ नेता और साथी खिलाड़ी भी उनके निधन पर शोक व्यक्त कर रहे हैं.

साथी खिलाड़ी के निधन पर रो पड़े कपिल देव

अपने साथी खिलाड़ी की निधन की खबर सुनकर पूर्व कप्तान कपिल देव भी भावुक हो गए. कपिल अपने आंसू नहीं रोक पाए. और उन्होंने नम आँखों से यशपाल को आखिरी विदाई दी. उन्होंने कहा कि वह पिछले सप्ताह ही यशपाल से मिले थे.

विश्व कप विजेता पूर्व कप्तान ने कहा, “मुझे तो अभी भी लग रहा है कि ये सच नहीं है. मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा है, हम अभी पिछले हफ्ते ही मिले थे और उनकी सेहत अच्छी थी, पर भगवन की मर्जी के आगे हम लड़ भी नहीं सकते हैं. हां भगवान को आज पूछेंगे जरूर कि ऐसा मत करो.” 

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने दुख जताया

खेल के साथ सूचना और प्रसारण मंत्री, अनुराग ठाकुर ने पूर्व क्रिकेटर के निधन पर दुख व्यक्त किया. ठाकुर ने कहा, “1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हूं. वह अच्छे स्वाभाव के इंसान थे.” 

राष्ट्रपति ने किया शोक व्यक्त

भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने भी पूर्व क्रिकेटर यशपाल शर्मा के निधन पर दुःख जताया है. राष्ट्रपति ने ट्वीट किया “1983 क्रिकेट विश्व कप में महत्वपूर्ण मैचों के दौरान किए गए सराहनीय प्रदर्शन ने क्रिकेट इतिहास में भारत की सबसे बड़ी जीत में से एक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.” 

बता दें कि यशपाल 1983 वर्ल्ड कप में भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में दूसरे नंबर पर थे. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में 1979 में अपना टेस्ट डेब्यू किया था, जबकि 1983 में अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था. 1978 में वनडे डेब्यू किया था और 1985 में अपना आखिरी वनडे मैच खेला था.

ये भी पढ़ें: 1983 में भारत को विश्व कप जिताने वाले Yashpal Sharma का हार्ट अटैक से हुआ निधन


 

SHARE