कहानी उन तीन मैचों की जिनके नतीजो से पूरी दुनिया रह गयी थी दंग

image credits: Pakistan Cricket/ Twitter

क्रिकेट के खेल में कभी भी कुछ भी हो सकता है जीत का सेहरा किस टीम के सिर पर सजेगा इस बात का पता मैच के अंत में ही चल पाता है.

क्योंकि यहाँ एक बॉल से मैच का पूरा रुख बदल जाता है और विश्वकप जैसे बड़े टूर्नामेंट में जहां टीमों के लिए एक-एक मैच में जीत हासिल करना बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है.

वहां पर यदि वह एक ऐसा मैच हार जाएं जिसमें उनकी जीत की संभावना 100 फीसदी मानी गई हो तो टीम का मनोबल पूरी तरह से टूट जाता है.

एक खास चर्चा वर्ल्डकप के उन्हीं तीन मैचों की जहाँ मज़बूत टीमों को कमजोर टीमों के हाथों बहुत ही बुरी तरह विरोधी टीम के हाथों से हार का स्वाद चखना पड़ा.

आयरलैंड vs पाकिस्तान (2007 वनडे वर्ल्डकप)

साल 2007 में वनडे वर्ल्डकप का आयोजन वेस्टइंडीज में हुआ था.

आयरलैंड और पाकिस्तान के बीच हुए मैच में आयरिश कप्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था और पाकिस्तान की टीम को 45.4 ओवरों में सिर्फ 132 के स्कोर पर ही रोक दिया था.

तथा जवाब में 41.4 ओवरों में मैच खत्म करते हुए 3 विकेट से रोमांचक जीत हासिल की थी.

इंग्लैंड vs आयरलैंड (2011 वनडे वर्ल्डकप)

साल 2011 में वनडे वर्ल्डकप का आयोजन भारत में हुआ था.

इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच हुए मैच में इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 327 रन बनाये थे.

और जवाब में आयरलैंड की आधी टीम 111 के स्कोर तक पवेलियन लौट चुकी थी.

लेकिन इसके बाद केविन ओ ब्रायन ने एलेक्स क्यूसेक के साथ 6वें विकेट के लिए 103 गेंदों में 162 रनों की साझेदारी करते हुए आयरलैंड को फिर से मैच में वापस ला दिया था.

और अंत में आयरलैंड ने 3 विकेट से मैच में अपनी जीत दर्ज करवाई थी.

अफगानिस्तान vs वेस्टइंडीज (2016 टी-20 वर्ल्डकप)

साल 2016 में टी-20 वर्ल्डकप का आयोजन भी भारत में हुआ था.

अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच मैच में विंडीज टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए अफगान टीम को 20 ओवरों में सिर्फ 123 के स्कोर पर ही रोक दिया था.

लेकिन जवाब में अफगानिस्तान की ओर की गयी बेहतरीन गेंदबाज़ी ने वेस्टइंडीज की टीम को 117 रनों पर ही रोक दिया था.

और मात्र 6 रनों से जीत हासिल की थी.

यह भी पढ़े : भारत,इंग्लैंड और वेस्टइंडीज इन युवा खिलाड़ियो के हाथों में दे सकती है अपने देश की कमान