बुज़ुर्ग महिला का 60 वर्षों बाद सपना होगा पूरा, जेफ बेजोस के साथ करेंगी अंतरिक्ष यात्रा

सपनों के पीछे भागने वालों को अक्सर मंज़िल मिल ही जाती है और यह कहावत पूरी की है अमेरिका की रहने वाली एक बुज़ुर्ग महिला ने जिनका 60 वर्षों बाद अंतरिक्ष में जाने का सपना पूरा होने जा रहा हैं. दरअसल 82 साल की बैरियर-ब्रेकिंग महिला एविएटर वैली फंक, इस महीने अरबपति जेफ बेजोस के साथ उनके पहली क्रू स्पेसफ्लाइट में शामिल होंगी. जेफ बेजोस की कंपनी ब्लू ओरिजनल ने गुरुवार को इस बात की घोषणा की.

बुज़ुर्ग महिला का सपना होगा पूरा

82 वर्षीय वैली फंक ने कंपनी की वेबसाइट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा है कि ‘मैंने नहीं सोचा था कि मैं कभी ऊपर जाऊंगी’. जानकारी के मुताबिक 21 साल की उम्र में वैली ने बतौर पायलट नासा के कार्यक्रम में मर्करी सेवन पुरुष अंतरिक्ष यात्रियों के समान कठोर परीक्षण पास किया था, लेकिन 13 महिलाओं के ग्रुप में उनकी उम्र सबसे कम थी. इस वजह से उन्हें अंतरिक्ष में जाने से रोक दिया गया था.

जानकारी के मुताबिक वैली फंक अमेरिकी सैन्य अड्डे पर पहली महिला उड़ान प्रशिक्षक थीं और राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा बोर्ड के लिए हवाई सुरक्षा जांचकर्ता बनने वाली पहली महिला भी थीं.

11 मिनट का होगा सफर

जेफ बेजोस ने वैली फंक को साथ ले जाने की घोषणा करने के साथ इंस्टाग्राम पर एक वीडियो भी शेयर किया. इस वीडियो में फंक कहती दिख रही हैं, ‘मैं आपसे आगे निकलकर दौड़ सकती हूं.’ बता दें कि Blue Origin का New Shepard यान अंतरिक्ष में करीब 11 मिनट की उड़ान भरेगा. पृथ्वी की सतह से 100 किलोमीटर की दूरी के बाद काल्पनिक सीमा तक पहुंचने के बाद कैप्सूल बूस्टर से अलग हो जाएगा और फिर से वायुमंडल में प्रवेश करेगा. बाद में पैराशूट की मदद से वह धरती पर लौट आएगा.

इस वीडियो में जेफ बेजोस फंक को यात्रा के बारे में बता रहे हैं. वीडियो में जेफ बेजोस ने फंक से पूछा कि लैंडिंग के समय आपके दिमाग में सबसे पहला विचार क्या आएगा. इस पर वैली फंक ने कहा कि मैं कहना चाहूंगी कि ये मेरे लिए अबतक की सबसे बेहतरीन बात होगी.

स्पेस जाने वाली सबसे बुजुर्ग

20 जुलाई को जब वह जेफ बेजोस के न्यू शेपर्ड लॉन्च (New Shepard Launch) में बैठकर स्पेस के लिए रवाना होंगी, तो वह इतिहास रच देंगी. अंतरिक्ष जाने वाली वह सबसे बुजुर्ग शख्स होंगी.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! Covishield लगवाने वालों को यूरोप के इन देशों में मिलेगी एंट्री, जानें