Kim Jong Un ने मुल्क में बिल्ली और कबूतरों को मारने का सुनाया तुगलकी फ़रमान! जानें वजह

image credits: Flickr

दुनिया में अपनी अजीबोगरीब हरकतों के लिए महशूर उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने अब अपने मुल्क में कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने की कवायद में सभी कबूतरों और बिल्लियों को खत्म करने का फरमान सुनाया है क्योंकि किम का मानना है कि कबूतर और बिल्लियां चीन से सीमा के जरिए कोरोना वायरस फैला रहे हैं.

‘एक्‍सप्रेस यूके’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, उत्‍तर कोरिया में चीन की सीमा से लगते इलाकों में कई अधिकारियों को कबूतरों को शूट करते देखा गया है. इतना ही नहीं यहां बिल्‍ल‍ियों के खात्‍मे का आदेश भी अधिकारियों को दिया गया है, ताकि कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. कोरिया के अधिकारी स्थानीय लोगों पर जानवरों को मारने का भी दबाव डाल रहे हैं.

चीन से सहमा उत्‍तर कोरिया!

इसकी एक प्रमुख वजह उत्‍तर कोरिया के शीर्ष नेता की यह धारणा बताई जा रही है कि पक्षी व अन्‍य किस्‍म के जानवर चीन की सीमा की तरफ से यहां प्रवेश कर सकते हैं, जिनके जरिये वायरस यहां पहुंच सकता है. ऐसे में बेहतरी यही है कि सीमा पार से आने वाले पक्षियों के साथ-साथ बिल्लियों का भी खात्‍मा कर दिया, जो अमूमन घरों में घूमती रहती हैं.

आपको बतादें, दुनियाभर में कोरोना के कहर के बीच उत्‍तर कोरिया लगातार दावा करता रहा है कि उसने इस महामारी पर विजय पा रखी है और उसके यहां संक्रमण के मामले नहीं हैं. गौरतलब है अप्रैल में उसने इस संबंध में एक रिपोर्ट भी विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन को सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि वह अब तक इस महामारी से मुक्‍त है.

वहीं ‘द सन’ की रिपोर्ट के मुताबिक खासतौर पर Hyesan और Sinuiju के अधिकारी स्थानीय लोगों को कबूतर और बिल्ली मारने को मजबूर कर रहे हैं. आदेश का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी हो रही है.

ये भी पढ़ें: “वैक्सीन लगवाएं और मुफ़्त बीयर पिएं”: राष्ट्रपति जो बाइडन का बड़ा एलान