Third Wave: केरल और महाराष्ट्र में तीसरी लहर का आगमन शुरू, विशेषज्ञों ने किया आगाह

coronavirus crowd
Image Credit: Pexels

देश में कोरोना की दूसरी लहर के शांत होते ही तीसरी लहर (Third Wave) ने लोगों की चिंताएं एक बार फिर से बढ़ा दी हैं. लोगों की लापरवाही के कारण केरल और महाराष्ट्र में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं. बताया जा रहा है कि केरल में पिछले 11 दिनों में यानि 11 जुलाई तक 1,28,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैंं. वहीं महाराष्ट्र में पिछले 11 जुलाई तक 88,130 से अधिक संक्रमण के मामले सामने आए हैं.

वहीं केरल औऱ महाराष्ट्र के इन नए मामलों ने सरकार और स्वास्थ्य विभाग की चिंता एक बार फिर से बढ़ा दी है. वहीं इस पर विशेषज्ञों का कहना है कि यह केरल (Kerala) और महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना की तीसरी लहर का आगमन है. इसलिए लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि इससे पहले पहली और दूसरी लहर में भी इसी तरह के मामले सामने आए थे.

इन दो राज्यों ने बढ़ाई चिंता

आपको बता दें कि केरल ही एक ऐसा राज्य है, जहां पर पिछले 11 दिनों में 1,28,951  से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. वहीं महाराष्ट्र की बता करें तो वहां पर पिछले दो सप्ताह में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं.  मुंबई, पुणे, कोल्हापुर और ठाणे में कोरोना के नए मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. यहां हर दिन 8,000 से 10 हजार के बीच मए मामले सामने आ रहे हैं. वहीं राहत वाली बात यह है कि देश की राजधानी दिल्ली में 1 से 11 जुलाई तक केवल 870 नए मामले सामने आए थे. 

वहीं केरल में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी होने से अन्य राज्यों की चिंता बढ़ा दी है. केरल के मल्लपुरम, कोट्टयम, कासरगोड, कोझिकोड और थिसूर समेत 14 जिलों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, जिसने सभी को चिंता में डाल दिया है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में वकील को काटने पर ‘दो कुत्तों’ को मिली मौत की सज़ा, फैसले से हर कोई हैरान