Surya Grahan 2021: सूर्य ग्रहण और शनि अमावस्या का बन रहा है संयोग, दुष्प्रभाव से बचने के लिए करें यह उपाय

Surya Grahan 2021
Surya Grahan 2021

कल सूर्य ग्रहण सुबह 10 बजकर 59 मिनट से लेकर 3 बजकर 7 मिनट तक पड़ेगा. यह इस वर्ष का आखिरी सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2021) है, जोकि शनि अमावस्या के दिन पड़ने वाला है. जिस कारण इसे शनिश्चरी अमावस्या का नाम दिया गया है.

हालांकि यह सूर्य ग्रहण स्पष्ट रूप से भारत में दिखाई नहीं देगा, इसलिए इसका सूतक काल भी अत्यंत प्रभावी नहीं होगा. लेकिन ज्योतिष शास्त्र की मानें तो धरती पर पड़ने वाले सूर्य और चंद्र ग्रहण दोनों का ही व्यक्ति की राशियों पर शुभ या अशुभ प्रभाव पड़ता ही है.

ऐसे में यह सूर्य ग्रहण जोकि शनि अमावस्या के साथ संयोगवश पड़ने वाला है. उस दौरान आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, जिससे आप स्वयं और अपने परिवार को सूर्य ग्रहण के प्रकोप से बचा सकें. हमारे आज के इस लेख में हम आपको यही बताने वाले हैं.

  1. इस बार शनि अमावस्या के चलते सूर्य ग्रहण के दिन आपको काले रंग के वस्त्र खरीदने से परहेज करना चाहिए. हालांकि काले रंग की चीज दान कर सकते हैं.
  2. साथ ही शनिश्चरी अमावस्या के दिन सरसों के तेल, काली उड़द और लोहे का सामान नहीं खरीदना चाहिए.
  3. सूर्य ग्रहण और शनि देव दोनों के ही प्रकोप से बचने के लिए आप “सूर्य पुत्रो दीर्घ देहो विशालाक्ष: शिव प्रिय:” मंत्र का जाप कर सकते हैं.
  4. आप इस दिन शनि देव की पूजा और शनि चालीसा का भी जाप कर सकते हैं. इससे आपको विशेष लाभ प्राप्त हो सकता है.
  5. इस सूर्य ग्रहण के दौरान आप जरूरतमंदों की सेवा करने का संकल्प लें. साथ ही पश्चिम की ओर मुख करके तेल का दीपक जलाएं. आप चाहे तो ॐ शं शनैश्चराय नमः मंत्र का भी जाप कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: साल का आखिरी सूर्य ग्रहण क्यों माना जा रहा है अधिक महत्वपूर्ण