IND vs SL: श्रीलंका के खिलाफ शिखर धवन रचेंगे इतिहास, गंभीर-कुंबले की बराबरी करने का मौका

ind vs sl
image credit: twitter

IND vs SL: भारतीय टीम शिखर धवन के नेतृत्व में श्रीलंका के खिलाफ सिमित ओवेरों की सीरीज खेलने के लिए तैयार है. श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया (India vs Srilanka) को तीन वनडे और इतने ही टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है. पहला वनडे मैच रविवार 18 जुलाई को कोलंबो में होना है. दौरे पर सभी मुकाबले आर. प्रेमदासा स्टेडियम में ही खेले जाएंगे. शिखर की कप्तानी और राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में युवा खिलाड़ी श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में उतरेंगे.

धवन बतौर कप्तान एक बड़ा इतिहास रचने जा रहे हैं. वह राष्ट्रीय टीम के लिए कप्तानी करने वाले 25वें खिलाड़ी होंगे. यह धवन के लिए गौरव का पल होगा जब वह 18 जुलाई को टॉस के लिए पिच पर जाएंगे. भारत के वनडे इतिहास की बात करें तो अब तक 24 खिलाड़ियों ने टीम इंडिया की कमान संभाली है.

प्रमुख खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में शिखर एक युवा भारतीय टीम का नेतृत्व करेंगे. और यहाँ भी वह एक बड़ा रिकॉर्ड बना सकते हैं. यदि टीम इंडिया सीरीज पर 3-0 से कब्जा कर लेती है तो शिखर अनिल कुंबले और गाैतम गंभीर की बराबरी कर लेंगे. दरअसल इन दोनों खिलाड़ियों के नेतृत्व में टीम इंडिया एक भी वनडे मैच नहीं हारी है. जहाँ गौतम ने 6 मुकाबलों में तो वही कुंबले ने 1 मैच में भारतीय टीम की कप्तानी की.

शिक्षा एवं रोजगार सम्बंधित ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

धोनी सर्वश्रेष्ठ वनडे कप्तान

वनडे मैचों में 24 खिलाड़ियों ने टीम इंडिया की कप्तानी की, लेकिन सबसे ज्यादा जीत पूर्व दिग्गज कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाम दर्ज है. धोनी ने 200 वनडे में टीम का नेतृत्व किया. इसमें उन्होंने 110 मुकाबले जीते, वही 74 में हार मिली. वे 100 से अधिक वनडे में जीत दिलाने वाले भारत के एकमात्र कप्तान हैं.

टीम इंडिया के लिए बतौर कप्तान वनडे मैचों में जीत के मामले में मोहम्मद अजहरुद्दीन (90), सौरव गांगुली (76), विराट कोहली (65 ) और राहुल द्रविड़ (42) के नाम दर्ज हैं.

तेंदुलकर और गावस्कर का ख़राब रिकॉर्ड

हालाँकि, सचिन तेंदुलकर और सुनील गावस्कर जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को बतौर कप्तान ज्यादा सफलता प्राप्त नहीं हुई . इन दोनों लीजेंड खिलाड़ियों ने जब भी टीम इंडिया के लिए कप्तानी की, उन्हें जीत से ज्यादा हार मिली. दोनों का रिकॉर्ड इस मामले में काफी ख़राब रहा है. सचिन ने 73 मैचों में कप्तानी की और 43 मुकाबले गंवा दिए. जबकि, सिर्फ 23 जीत नसीब हुई. वहीं सुनील गावस्कर ने 37 मैच में कप्तानी की, 14 में जीत दिलाई. 21 हारे.

भारत के वर्ल्ड कप विजेता कप्तान कपिल देव का जीत-हार का रिकॉर्ड भी सिर्फ 50 प्रतिशत ही है. टीम इंडिया ने कपिल की कप्तानी में 74 मैच खेले. इस दौरान 39 में जीते, जबकि 33 हारे. बता दें कि अबतक भारत के लिए 8 कप्तान ही जीत के मामले में दहाई का आंकड़ा छू सके.

ये भी पढ़ें: अपने पिता मुरलीधरन की तरह ही गेंदबाजी करते हैं उनके बेटे नरेन, वायरल हो रही है वीडियो

SHARE