वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप को लेकर नियमों की सूची जारी

World Test Championship
image credit: sportsflashes/twitter

दुनियाभर के सभी क्रिकेट प्रेमियों का इंतज़ार जल्द ही खत्म होने वाला है क्योंकि भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाने वाला वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल 18 जून से शुरू होने वाला है .

हाल ही में इंटरनेशनल क्रिकेट कॉउन्सिल (ICC) ने खेल से जुड़े नियमों की एक सूची जारी की हैं.

आईसीसी के मुताबिक मैच के ड्रा या टाई होने की स्थिति में दोनों टीमों को विजेता घोषित किया जाए.

आईसीसी की ओर जानकारी दी गई है कि अगर फाइनल मैच ड्रॉ होता है तो इंडिया और न्यूजीलैंड टेस्ट चैंपियनशिप के ज्वाइंट विनर होंगे.

मैच टाई होने की स्थिति में भी आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप दोनों टीमें आपस में शेयर करेंगी.

रिज़र्व डे भी सुनिश्चित

आईसीसी ने टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए रिजर्व डे का एलान भी किया है.

18 से 22 जून के बीच बारिश या अन्य किसी कारण से मैच का वक्त बर्बाद होता है तो हुए नुकसान की भरपाई के लिए मुकाबले को 23 जून तक आगे बढ़ाए जा सकता है.

रिजर्व डे इसलिए रखा गया है ताकि पूरे पांच दिल का खेल हो सके.

मैच के दौरान समय गंवाने की स्थिति में आइसीसी मैच रेफरी नियमित रूप से टीमों और मीडिया को इस बारे में अपडेट करेगा कि रिजर्व डे का उपयोग कैसे किया जा सकता है.

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पर लागू होने वाले नियम-

बांग्लादेश और श्रीलंका के बीच चल रहे आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप सुपर लीग श्रृंखला के दौरान लागू होने वाले नियमों का कार्यान्वयन भी WTC फाइनल में दिखाई देगा.

शॉर्ट रन –

थर्ड अंपायर अपने आप शॉर्ट रन की समीक्षा करके मैदानी अंपायर को बताएगा और यह फैसला अगली गेंद डालने से पहले दिया जाना रहेगा।

रिव्यु –

फील्डिंग कप्‍तान या आउट होने वाला बल्‍लेबाज अंपायर से पुष्टि कर सकता है कि क्‍या एलबीडब्‍ल्‍यू के लिए खिलाड़ी की समीक्षा शुरू करने का निर्णय लेने से पहले गेंद को खेलने का वास्तिवक प्रयास किया गया है.

डीआरएस रिव्यु –

एलबीडब्‍ल्‍यू समीक्षा के लिए विकेट जोन के ऊंचाई मार्जिन को स्‍टंप के शीर्ष तक रखा गया है ताकि ऊंचाई और चौड़ाई दोनों के लिए स्‍टंप के चारों ओर समान अंपायर का कॉल मार्जिन सुनिश्चित किया जा सके.

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम फाइनल मैच खेलने के लिए पहले ही इंग्लैंड पहुंच चुकी है. लेकिन इंडियन क्रिकेट टीम 2 जून को इंग्लैंड के लिए रवाना होगी.

इंडिया के क्रिकेटर्स को कोरोना वायरस की वजह से 10 दिन तक इंग्लैंड में क्वारंटीन रहना होगा.

खिलाड़ियों को हालांकि क्वारंटीन के दौरान प्रैक्टिस करने की इजाजत दी गई है.

यह भी पढ़े : WTC Final, साहा के कवर के रूप में शामिल हुआ मुंबई का ये विकेटकीपर, टीम के साथ जाएँगे इंग्लैंड