20-20 वर्ल्ड कप से पहले फंसा पाकिस्तान का यह दिग्गज, पीसीबी ने तुरंत टीम से निकाला

image credits: Pakistan Cricket/ Twitter

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के लिए क्रिकेट का यह बहुत बुरा दौर है पहले न्यूजीलैंड और फिर इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने पाकिस्तानी दौरा रद्द किया। और अब 20-20 वर्ल्ड कप की शुरुआत होने से पहले ही न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर ग्रांट ब्रैडबर्न ने पाकिस्तान के हाई परफॉर्मेंस कोचिंग प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया था। वहीं अब एक खिलाड़ी को स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाया गया है।

जानकारी के लिए बता दूं कि 17 अक्टूबर से टी20 वर्ल्ड कप की शुरुआत UAE में होने जा रही है और 24 अक्टूबर को भारत-पाकिस्तान के बीच पहला मुकाबला खेला जाएगा।

पाकिस्तान में स्पॉट फिक्सिंग का ताजा मामला युवा बल्लेबाज जीशान मलिक के आरोप सिद्ध होने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें तुरंत प्रभाव से निलंबित भी कर दिया है।

पाकिस्तान में एक घरेलू टी20 टूर्नामेंट में उनसे स्पॉट फिक्सिंग को लेकर कुछ लोगों ने संपर्क किया था, लेकिन जीशान ने इसकी जानकारी पीसीबी को नहीं दी।

ट्विटर पर एक पाकिस्तानी पत्रकार ने गुरुवार को लिखा था कि,’नदर्न के सलामी बल्लेबाज जीशान मलिक को पीसीबी ने भ्रष्टाचार विरोधी नियमों का उल्लंघन करन के चलते निलंबित कर दिया है। भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के अनुच्छेद 4.7.1 के तहत पीसीबी ने उन्हें दोषी पाते हुए ये कार्रवाई की है’

जीशान से पहले भी पाकिस्तान में फिक्सिंग का साया मंडराता रहा है। कई स्टार खिलाड़ियों का इसके चलते करियर भी खत्म हो गया। जिसमें सलमान बट और मोहम्मद आसिफ जैसे बड़े नाम शामिल हैं। इसके अलावा
उमर अकमल और मोहम्मद आमिर ने भी कई सालों का बैन झेला था।

ये भी पढ़ें: धोनी की टीम CSK के वे फ़ैसले, जिनसे बनी चैंपियन