Tokyo Olympics: इस खास ‘उपकरण’ के साथ जीत की राह खोजेगी भारतीय शटलर सिंधु

Credit - Twitter

साल 2016 रियो ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली पीवी सिंधु की टोक्यो ओलंपिक से पहले ही एक बड़ी मुराद पूरी हो गयी है जिसके जरिये उनकी जीत की राह और भी आसान हो जाएगी.

क्या थी सिंधु की मांग

स्टार शटलर पीवी सिंधु ने सरकार से अनुरोध किया था कि उन्हें एक अत्याधुनिक ‘रिकवरी’ उपकरण खरीदने की मंजूरी दे जाये जिससे वे टोक्यो ओलंपिक से पहले शारीरिक रूप से फिट रह सके.

SAI ने दी मंजूरी

भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) ने कहा कि 2016 ओलंपिक रजत पदक विजेता के इस उपकरण की मांग करने के 24 घंटे के भीतर इसे खरीदने को मंजूरी दे दी गई.

हालाँकि SAI ने अभी तक इस उपकरण की कीमत का खुलासा नही किया हैं.

माँग पूरी होने पर खुश है सिंधु

पीवी सिंधु ने कहा है, “मैं खुश हूं कि स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने मेरी मांग पर इतनी जल्दी इजाजत दी है. मैं बहुत जल्दी अब आर्डर देकर इसको मेरे साथ ले जा सकती हूं टोक्यो में.”

क्या फायदा देगा यह उपकरण

इस एडवांस्ड सिस्टम के जरिए लंबी ट्रेनिंग और मैचेस के बाद खिलाड़ियों को जल्दी रिकवर करने में आसानी होती है और ओलंपिक जैसे खेलों के मंच पर दुनिया के बड़े एथलीटों के पास ये एडवांस्ड रिकवरी सिस्टम है.

अब सिंधु भी टोक्यो में इस सिस्टम के साथ अपनी दावेदारी को और मजबूती से पेश करेंगी.

ये भी पढ़ें: Tokyo Olympics, क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक बनी ‘माना पटेल’