प्राइवेट स्पेस प्लेन में अंतरिक्ष यात्रा कर ‘रिचर्ड ब्रैंसन’ ने रचा इतिहास, भारतीय मूल की शिरिषा भी रही मौजूद

image credits: Twitter

अगर पैसा हो तो आप कुछ भी कर सकते हैं. यह बात अरबपति रिचर्ड ब्रैंसन ने साबित कर दिया. अपने प्राइवेट स्पेसजेट पर उन्होंने सफलता पूर्वक स्पेस तक जाकर धरती पर लौट आए हैं. खास बात ये रही है कि ब्रैनसन अपने साथ पांच सदस्यों को भी अंतरिक्ष में लेकर गए थे. इसमें भारतवंशी शीरिषा बांदला भी शामिल थीं. ये पूरा सफर करीब 56 मिनट का रहा. इसमें से वे सिर्फ चार मिनट ही अंतरिक्ष में रहे.

भारतीय समय के मुताबिक सवा आठ बजे उनके विमान ने उड़ान भरी. 9 बजकर 11 मिनट पर वो धरती पर वापस लौटे. धरती पर लौटने के बाद रिचर्ड ब्रैनसन ने वर्जिन गैलेक्टिक स्पेसशिप की तारीफ की. धरती पर लौटने के बाद ब्रैनसन ने अपने पहले बयान में कहा कि अंतरिक्ष में जाकर अच्छा लगा.

अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की तीसरी महिला बनीं शीरिषा बांदला

शीरिषा बांदला अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की तीसरी महिला बन गई हैं. गौरतलब है उनसे पहले कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स अंतरिक्ष का सफर कर चुकी हैं. विलियम्स का जन्म अमेरिका में ही हुआ था. हालांकि, भारतीय नागरिक के तौर पर अंतरिक्ष की यात्रा करने वाले एक मात्र विंग कमांडर राकेश शर्मा हैं. वायुसेना के पूर्व पायलट शर्मा तीन अप्रैल 1984 को सोवियत इंटरकोस्मोस कार्यक्रम के तहत सोयुज टी-11 से अंतरिक्ष में गए थे।

रिचर्ड ने इस सफर के दौरान प्लेन से ली गई तस्वीर ट्वीट की. उन्होंने लिखा- ‘स्पेस युग की नई सुबह में आपका स्वागत है’

रिचर्ड ब्रैंसन ने बेजोस को पछाड़ा

इस अंतरिक्ष यात्रा के साथ ही ब्रैंसन ने अपने करीबी प्रतिद्ंदी जेफ बेजोस को पीछे छोड़ दिया है. जुबलेंट ब्रैंसन ने रिचर्ड ब्रैंसन की पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि 17 साल की कड़ी मेहनत का फल मिला है. इसी के साथ ब्रैंसन पहले ऐसे शख्स बन गए हैं जिनके पास अपना प्राइवेट स्पेसशीप है. इस मामले में उन्होंने जेफ बेजोस को 9 दिन से पीछे छोड़ दिया.

इस पूरी घटना को 500 लोग देख रहे थे. इसमें ब्रैंसन की पत्नी, बच्चे और पोते-पोतियां भी शामिल थीं. स्पेसप्लेन अपने मदर शिप से 13 किलोमीटर पर अलग हो गई. स्पेस तक जाकर लौटने में ब्रैंसन को सिर्फ 15 मिनट लगे. जैसे ही उनका स्पेसक्राफ्ट Musks SpaceX रनवे पर आया लोग खुशी से चिल्लाने लगे. वर्जिन अटलांटिक एयरवेज शुरू करने वाले लंदन के रिचर्ड ब्रैंसन एक हफ्ते में 71 साल के होने वाले हैं. वह अभी स्पेस ट्रिप पर जाने की तैयारी में नहीं थे लेकिन अचानक उन्होंने अपना इरादा बदल लिया.

इरादा बदलने की वजह ये रही कि उनके प्रतिद्ंवदी माने जाने वाले अरबपति जेफे बेजोस 20 जुलाई को स्पेस पर जाने वाले हैं. फिर क्या था, ब्रैंसन ने 9 दिन पहले ही स्पेस ट्रिप से आकर बेजोस से आगे निकल गए. बेजोस की ब्लू ओरिजन ने अभी स्पेस ट्रिप के टिकट का ऐलान नहीं किया है.

ये भी पढ़ें: सख्ती! ‘कोरोना वैक्सीन न लगवाने वाले कर्मचारी, नौकरी से होंगे बर्ख़ास्त’ बोले- Fiji पीएम