सख्ती! ‘कोरोना वैक्सीन न लगवाने वाले कर्मचारी, नौकरी से होंगे बर्ख़ास्त’ बोले- Fiji पीएम

Image credits: Flickr

कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट के बढ़ते खौफ के मद्देनजर फिजी (Fiji) सरकार ने सख्त कदम उठाने उठाने शुरू कर दिए है. दरअसल, फिजी में महामारी से बाहर निकलने के लिए प्रधानमंत्री फ्रैंक बेनीमरामा ने ‘नो जैब, नो जॉब्स’ का नया नारा देते हुए देश के सामने एक प्लान रखा है. बेनीमरामा ने कहा है कि वैक्सीन (Vaccine) नहीं लगवाने वालों को नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा.

इसके साथ ही फिजी के पीएम ने देश के सभी 9,30,000 सरकारी कर्मचारियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि 15 अगस्त तक वैक्सीन का पहला डोज नहीं लगवाने वाले सरकारी कर्मियों को जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाएगा और 1 नवंबर तक यदि वे अपना दूसरा डोज नहीं लगवाते हैं, तो फिर उन्हें बर्खास्त कर दिया जाएगा.

Companies को भी दी चेतावनी

फिजी सरकार ने ऐसी कंपनियों को बंद करने की भी धमकी दी है, जिनके अधिकांश कर्मचारियों ने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई है. गुरुवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘नो जैब, नो जॉब्स, विज्ञान ने हमें बताया है कि कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन जरूरी है और अब सरकार इसी के आधार पर नीति तैयार कर रही है. टीका नहीं लगवाने वालों को नौकरी से हाथ धोने के लिए तैयार रहना चाहिए’.

बतादें, फिजी में कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप ने स्वास्थ्य व्यवस्था पर गहरा दबाव डाला है और अर्थव्यवस्था को तहस-नहस कर दिया है. देश की अर्थव्यवस्था पिछले साल ही 19 फीसदी तक सिकुड़ गई है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय सैलानियों ने आना बंद कर दिया था. मुल्क में करीब आधी नौकरियां पर्यटन क्षेत्र से संबंधित हैं और फिजी अपने सफेद बालू के समुद्र तटों आदि के लिए जाना जाता है. साथ ही यहां डेल्टा वैरिएंट के कई केस दर्ज किए गए हैं और हर रोज करीब 700 नए मामले सामने आ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: चीन के ‘कर्ज जाल’ में फंसा यह खूबसूरत मुल्क, छोड़नी पड़ सकती है ज़मीन

SHARE