Ind vs Eng: भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज पर मंडराया खतरा, ऋषभ पंत हुए कोरोना संक्रमित

ind vs eng
image credit: twitter

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज पर कोरोना का साया मंडराने लगा है. सीरीज के शुरू होने से पहले ही भारतीय टीम को तगड़ा झटका लगा है. टीम इंडिया के स्टार विकेटकीपर ऋषभ पंत को कोविड 19 पॉजिटिव पाया गया है. इन दिनों यूके में कोरोना संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है, और इसने भारतीय खिलाड़ियों को भी अपने चपेट में ले लिया.

इंग्लैंड में हालातों को देखते हुए पहले से ही टेस्ट सीरीज पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. अब कोविड के मामले सामने आने के बाद सीरीज नियमित समय पर शुरू होगी या नहीं कुछ भी कहना मुश्किल है.

BCCI ने की पुष्टि

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने गुरुवार सुबह इंग्लैंड में रह रही भारतीय टीम में एक कोविड -19 पॉजिटिव मामले की पुष्टि की. हालांकि क्रिकेटर की पहचान को आधिकारिक नहीं किया गया है, लेकिन सूत्रों के हवाले से पता चला है कि ऋषभ पंत कोरोना संक्रमित हुए हैं.

अपनर दोस्त के घर पर हैं पंत

अँग्रेजी समाचार टाइम्स नाउ के मुताबिक को पंत को 8 दिन पहले वायरस हुआ था और तब से वह लंदन में एक दोस्त के घर पृथकवास में हैं. वह 15 जुलाई को लंदन से डरहम की यात्रा करने वाली भारतीय टीम के साथ नहीं गए हैं. वह कोरोना से पूरी तरह से उबरने के बाद में वह कैम्प में शामिल होंगे.

वेम्बले स्टेडियम में देखने गए थे यूरो 2020 का एक मैच

पंत को यूरो 2020 टूर्नामेंट के दौरान लंदन के वेम्बली स्टेडियम में अपने कुछ दोस्तों के साथ देखा गया था जब इंग्लैंड ने टूर्नामेंट के ग्रुप चरण में जर्मनी का सामना किया था। पंत में हालांकि कोई लक्षण नहीं हैं और वह स्वस्थ हैं.

बीसीसीआई के एक सूत्र ने गुरुवार को पीटीआई को बताया, “वह (पंत) किसी परिचित के यहां क्वारंटाइन में हैं और गुरुवार को टीम के साथ डरहम नहीं जाएंगे.”

टीम इंडिया ने लिया था तीन हफ्ते का ब्रेक

ज्ञात हो कि डब्ल्यूटीसी के फाइनल में न्यूजीलैंड से हारने के बाद से टीम इंडिया ने तीन हफ्ते का ब्रेक लिया था. इस दौरान भारत के कई खिलाड़ी ब्रिटेन की अलग-अलग जगहों पर घूमने भी गए. इसी बीच में ही उनके कोरोना की चपेट में आने की आशंका की जा रही है.

समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक कि दोनों खिलाड़ियों में कोरोना के शुरूआती लक्षण दिखाई दिए, जिसके बाद उनकी कोरोना जांच कराई गई. जिसमें से एक की रिपोर्ट निगेटिव आई है. इसके बाद दूसरे खिलाड़ी की जांच 18 जुलाई को की जाएगी. तब तक उसका 10 दिन का आइसोलेशन समय पूरा हो चुका होगा.

ये भी पढ़ें: ICC WTC – आईसीसी ने किया बड़ा बदलाव, दूसरे सीजन के लिए नए अंक प्रणाली जारी किए